स्टार्टअप्स

मोदी :स्टार्टअप ने महामारी के दौरान भारत की मदद की

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने युवा, इच्छुक उद्यमियों की मदद करने के लिए 1,000 करोड़ रुपये के फंड की घोषणा की है। पीएम ने स्टार्टअप इंडिया इंटरनेशनल समिट का उद्घाटन करते हुए यह घोषणा की। फंड यह सुनिश्चित करेगा कि ,स्टार्टअप पूंजी की कमी का सामना न करें। मोदी ने वीडियो-कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दुनिया भर के युवा उद्यमियों के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा कि स्टार्टअप के संस्थापकों में भविष्य को बदलने की क्षमता है। केंद्र एक युवा- उन्मुख स्टार्टअप प्रणाली बनाने की कोशिश कर रहा है। मोदी ने कहा, “पहले एक स्टार्टअप के बारे में सुनकर लोग पूछते थे कि आप नौकरी क्यों नहीं करते? अब लोग कहते हैं कि अपना स्टार्टअप क्यों न बनाएं।”
भारत दुनिया के सबसे बड़े स्टार्टअप इकोसिस्टम में से एक है। देश में 41,000 से अधिक स्टार्टअप संचालित हैं, जिनमें आईटी सेक्टर में 5,700, स्वास्थ्य क्षेत्र में 3,600 और कृषि क्षेत्र में 1,700 हैं।
“बड़ी कंपनियों ने कोविद के दौरान जीवित रहने के लिए संघर्ष किया। लेकिन स्टार्टअप ने प्रयास किया और भारत को आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित किया,” पीएम ने कहा। स्टार्टअप न केवल भारत के बड़े शहरों में बढ़ रहे हैं बल्की 40% उद्यमी टियर- II और III शहरों से हैं।
मोदी ने दूरदर्शन पर प्रसारित किए जाने वाले स्टार्टअप चैंपियंस नामक एक समर्पित टेलीविज़न शो भी लॉन्च किया।
शिखर सम्मेलन का आयोजन केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा किया गया था। 25 देशों के 200 से अधिक विशेषज्ञों ने भाग लिया। यह कार्यक्रम स्टार्टअप इंडिया की पहल की पांचवीं वर्षगांठ पर आयोजित किया गया था।

 

Leave a Reply

Back to top button