स्टार्टअप्स

ग्रामीण नौजवानों को उनकी प्रतिभा विकसित करने के लिए हैकथॉन

कासरगोड में आयोजित रूरल इंडिया बिजनेस कॉन्क्लेव एक अनुस्मारक था कि भारत का आर्थिक भविष्य उन विचारों और प्रौद्योगिकी नवाचारों में निहित है जो गाँवों में स्थापित हैं। कॉनक्लेव के स्टार्टअप के संस्थापकों और युवा उद्यमीयो  ने ग्रामीण समस्याओं के समाधान के लिए तकनीक के इस्तेमाल के अपने अनुभव साझा किए

हैकथॉन ग्रामीण क्षेत्रों में समस्याओं के समाधान के साथ

कॉन्क्लेव ने ग्रामीण क्षेत्रों मे  विभिन्न मुद्दों के समाधान के लिए एक हैकथॉन भी आयोजित किया। अपशिष्ट प्रबंधन के लिए मोबाइल ऐप और मशीन लर्निंग के साथ नारियल की परिपक्वता की खोज के  समाधान का जन्म हैकथॉन पर हुआ । सह्याद्रि इंजीनियरिंग कॉलेज मल्टिपल कल्टिवेशन मोबाइल बेस्ड ड्रिप इरिगेशन सिस्टम ने  प्रथम स्थान प्राप्त किया और मीनांगड पॉली टीम को भी प्रशंसा पुरस्कार मिला।

राष्ट्रीय स्तर पर जानेमाने फाउंडर्स कॉन्क्लेव का हिस्सा बने 

दो-दिवसीय कॉन्क्लेव ने उद्यम शुरू करने के लिए गैर-सरकारी संगठनों द्वारा प्रदान की जाने वाली कृषि, उद्यमशीलता के अवसरों और वित्तीय और तकनीकी सहायता में नई तकनीकों पर भी चर्चा की गयी ।इस आयोजन के दौरान राज्य भर के रूरल इनोवेशन और सक्सेसफुल टेक स्टार्टअप फाउंडर्स ने कार्यक्रम में भाग लिया ।   ग्रामीण नवाचार को बढ़ावा देने के लिए केरल स्टार्टअप मिशन और CPCRI कासरगोड द्वारा दो दिवसीय हैकथॉन का आयोजन किया गया।

Leave a Reply

Back to top button